हत्या मामले में मुख्य मुल्जिम भाखराराम को गुजरात से किया गिरफ्तार


मृतक के परिजनों ने धरने के दसवें दिन धरना समाप्त

सांचौर। जिला मुख्यालय पर मृतक भीखाराम बिश्नोई के परिजनो के साथ ग्रामीण दसवें दिन भी लगातार अनिश्चितकालीन धरना देकर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। उस दौरान परिजनों के पास समाचार आए की मुख्य मुल्जिम भाखरा राम पंवार गुजरात से गिरफ्तार हो चुका है। गिरफ्तारी का शुभ संकेत सुनने से पहले परिजनों के साथ सैकड़ो की संख्या में धरने पर बैठे ग्रामीणों ने एसडीएम बद्रीनारायण विश्नोई को बुलाकर धरना स्थल पर मुख्यमंत्री के नाम विज्ञापन सौंपा गया। उसके थोड़ी देर बाद ही एसडीम बिश्नोई धरना स्थल पर वापस आकर मृतक के परिजनों को समझाइश करके धरना समाप्त करवाया गया। एसडीएम विश्नोई ने कहा आपकी जो वाजिब मांग थी जिसमें एक मुख्य मुलजिम प्रवीण पंवार को मोरबी गुजरात से गिरफ्तार किया जा चुका था और आज आपके धरने के दसवें दिन मुख्य मुल्जिम भाखराराम पंवार को भी गुजरात से गिरफ्तार कर लिया गया है इसके संबंध में गिरफ्तारी के बारे में पूर्ण आश्वास वह समझाइश करके दसवें दिन धरने को समाप्त करवाया गया। समाज के मौजूद लोगों के मौजूदगी में सहमति के साथ धरना समाप्त किया गया है। दरअसल आपको बता दे की इस धरने को लगातार 10 दिनों से धरने की गतिविधियों को लीड करते हुए प्रशासन की आंखें खोलने का पर्दाफाश करते हुए लगातार न्यूज़ को फोकस किया जा रहा था।भीखाराम बिश्नोई के परिजनों को न्याय दिलाने के लिए धरने पर मंत्री पुत्र डॉ भूपेंद्र बिश्नोई, जिला प्रधान सुरजनराम साऊ, सिवाड़ा सरपंच प्रतिनिधि हरिकिशन साऊ, पूर्व सरपंच जगमालाराम सारण, लक्ष्मीचंद गांधी, भवानीसिंह, भैराराम साऊ, मोहन साऊ, मनोहर साऊ, भागीरथ ऑक्सफोर्ड कॉलेज, जिला परिषद सदस्य प्रवीण साऊ, सुरेंद्र ग्लोबल कॉलेज, मंगलाराम कुराड़ा, आसूराम खीचड़, पुखराज सोनी, कृष्ण देवासी, 29मित्र मंडली शिक्षक, दीपाराम गोदारा, गणपत आरके, मांगीलाल ममता डेयरी, प्रकाश सारण, राकेश कोहलानी, अशोक एलडीसी, अभय सुरानी, मोहन हालीवाव, ओम साऊ, नाथूराम, बाबूलाल, बाबूलाल सोनाटा, वीरदाराम मांजू, रमेश बेनीवाल, मनोज साऊ, डॉ गणपत, सुरेश मंत्री पीए, श्री राम गोदारा, मनोहर गोदारा,किशनलाल, भाटीराम, गणपत लटियाल, श्रवण सारण, जगदीश जांगू, रघु भाई, भजन लाल, धोला राम खिलेरी, जगदीश साऊ, शांतिलाल, बुधराम साऊ, हरिराम मास्टर, दिनेश साऊ, मनोज भुरानी गोदारा, हेमाराम साऊ, भजन लाल, सुजानाराम खिलेरी, हीराराम साऊ, बगडूराम, बाबूलाल साऊ, किशनाराम साऊ, पुखराज साऊ, गणपत पंवार, मनोज साऊ, मनोहरलाल साऊ, सूरजपाल, लूंगा देवी, पारुदेवी, पुनमी देवी, एलची देवी, निरमा देवी, रामेश्वरी देवी, खिवणी देवी, शारदा देवी, सकुरी देवी आदि बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!